Shayri.com  

Go Back   Shayri.com > English/Hindi/Other Languages Poetry > Hindi Kavitayen

Reply
 
Thread Tools Rate Thread Display Modes
दो मिनट का मौन ही धारण कर ले
Old
  (#1)
sumanakshar
Registered User
sumanakshar is a glorious beacon of lightsumanakshar is a glorious beacon of lightsumanakshar is a glorious beacon of lightsumanakshar is a glorious beacon of lightsumanakshar is a glorious beacon of lightsumanakshar is a glorious beacon of light
 
Offline
Posts: 234
Join Date: Dec 2008
Location: delhi
Rep Power: 0
Question दो मिनट का मौन ही धारण कर ले - 5th February 2009, 01:34 PM

आज सुबह अखबार मे फिर छोटी सी बच्ची के साथ बलात्कार की खबर आई है.. दो चार रोज पहले भी अखबार मे बाप और उसके रिश्तेदारो ने बेटी के साथ सालो बलात्कार किया ये खबर आई... रोज छोटी छोटी बच्चियो के साथ ऐसा हो रहा है ... आखिर क्युं... मन बडा भारी हो जाता है ... आखिर कमी कहां है.. हम मे या हमारी व्यव्स्था मे....? इसी सन्दर्भ मे ......


दरिंदो ने फिर शिकार कर डाला
डेढ दो साल कि बच्ची से फिर
घोर अनाचार कर डाला...

जाने कैसा हो गया है जमाना
बाप-भाई के रिश्तो को भी
ना-पाक कर डाला ....
रोज अखबार मे सुर्खिया होती है
मासुमो के साथ बलात्कार होता है
जो जानते भी नही इसका मतलब
उन्के साथ घोर अत्याचार होता है

मै और मेरा समाज फिर भी
आंख बंद कर सोता है
अपनी कानून व्यवस्था और लोकतंत्र पर
बगैर आंसुओ के रोता है...

और हम क्या कर सकते है
क्युंकि हम आंख बंद कर सोये है
उन दरिंदो मे से कुछ के चेहरे
हमने अपनी आंखो मे छुपोये है....

हम मजबूर है अपने हालात आद्तो से
कुछ कर नही सकते
जमाना हम से बदलता है
मगर हम बदल नही सकते...

चलो जो हुई तबाह, बर्बाद
जिसने भोगी नरकीय वेदना, दर्द,
उन मासुम उन्की मासुमियत के नाम
अपनी आंखो को थोडा सा नम कर ले
चलो उन्के लिये...
दो मिनट का मौन ही धारण कर ले...

क्युंकि इससे ज्यादा हम
कुछ कर भी नही सकते....
दो मिनट का मौन ही धारण कर ले

Last edited by sumanakshar; 5th February 2009 at 01:36 PM.. Reason: space
  Send a message via Yahoo to sumanakshar  
Reply With Quote
Reply

Thread Tools
Display Modes Rate This Thread
Rate This Thread:

Posting Rules
You may not post new threads
You may not post replies
You may not post attachments
You may not edit your posts

BB code is On
Smilies are On
[IMG] code is On
HTML code is Off

Forum Jump

Similar Threads
Thread Thread Starter Forum Replies Last Post
शायरी डौट कौम अब हिन्दी में gjgjgj Shayri-e-Ishq 26 25th September 2019 09:35 AM
थाल पूजा का लेकर चले आइये , मन्दिरों की बनाव&# shakuntala vyas Shayri-e-Mashahoor Shayar 0 5th December 2010 05:58 PM
कोई हमारी तरां दिल ना लगाना........ Rajeev Sharma Shayri-e-Dard 5 19th April 2010 12:05 PM
किसी भी घटना मे तुम्हारा होना ajay nidaan Inspiring Stories 2 11th October 2009 09:40 AM
नज़र में आज तक मेरी कोई तुझसा नहीं निकला। yati_om Ghazal Section 1 18th December 2006 12:44 PM



Powered by vBulletin® Version 3.8.5
Copyright ©2000 - 2019, Jelsoft Enterprises Ltd.
vBulletin Skin developed by: vBStyles.com