Shayri.com  

Go Back   Shayri.com > Doha Section > Delightful Dohas

Reply
 
Thread Tools Rate Thread Display Modes
Old
  (#81)
Ayan_khan
tanha musafir
Ayan_khan is a glorious beacon of lightAyan_khan is a glorious beacon of lightAyan_khan is a glorious beacon of lightAyan_khan is a glorious beacon of lightAyan_khan is a glorious beacon of light
 
Ayan_khan's Avatar
 
Offline
Posts: 214
Join Date: Oct 2010
Location: yours heart
Rep Power: 13
3rd August 2011, 09:36 AM

जब तक इंसान बच्चों जैसा भोलापन अपने अंदर रखता है उसके अंदर अशांति नहीं रहती !
जैसे -जैसे माया की परत व्यक्ति के ऊपर चढती जाएगी वैसे-वैसे अशांत होगा ! इसलिए कहा गया है की मनुष्य का व्यवहार जितना कृत्रिम है ,बनावटी है ,दिखावे वाला है ,उतना अशांत है और जितना सरल ,सहज ,प्रेमपूर्ण ,रसपूर्ण है उतना ही वह शांत और आनंदित है !





I
LOVE MY INDIA



   
Reply With Quote
Old
  (#82)
Ayan_khan
tanha musafir
Ayan_khan is a glorious beacon of lightAyan_khan is a glorious beacon of lightAyan_khan is a glorious beacon of lightAyan_khan is a glorious beacon of lightAyan_khan is a glorious beacon of light
 
Ayan_khan's Avatar
 
Offline
Posts: 214
Join Date: Oct 2010
Location: yours heart
Rep Power: 13
3rd August 2011, 09:37 AM

दूसरों के दोष ढूंढने में अपनी शक्ति का अपव्यय मत करो। अपने आप को ऊँचा उठाने का हर सम्भव
प्रयास जारी रखो, उसे कम न होने दो।
हर किसी में अच्छाई को ढूंढो, उससे कुछ सीखकर अपना ज्ञान और अनुभव बढाओ। इससे तुम बहुत
जलदी ऊँचाई तक पहुँच सकते हो।





I
LOVE MY INDIA



   
Reply With Quote
Old
  (#83)
Ayan_khan
tanha musafir
Ayan_khan is a glorious beacon of lightAyan_khan is a glorious beacon of lightAyan_khan is a glorious beacon of lightAyan_khan is a glorious beacon of lightAyan_khan is a glorious beacon of light
 
Ayan_khan's Avatar
 
Offline
Posts: 214
Join Date: Oct 2010
Location: yours heart
Rep Power: 13
3rd August 2011, 09:40 AM

संसार में समय को बहुमूल्य संपदा माना गया है। समय की रफ़्तार इतनी तीव्र है कि पलक झपकते ही आप पिछड़ सकते है। इसलिए अपने जीवन के हर पल को, क्षण को कीमती मानकर उसका सदुपयोग करो। समय को कभी बरबाद मत करना। क्योंकि समय को जो व्यर्थ बिता देते है, समय उनको बरबाद कर देता है।"

-सुधाँशुजी महाराज





I
LOVE MY INDIA



   
Reply With Quote
Old
  (#84)
Ayan_khan
tanha musafir
Ayan_khan is a glorious beacon of lightAyan_khan is a glorious beacon of lightAyan_khan is a glorious beacon of lightAyan_khan is a glorious beacon of lightAyan_khan is a glorious beacon of light
 
Ayan_khan's Avatar
 
Offline
Posts: 214
Join Date: Oct 2010
Location: yours heart
Rep Power: 13
3rd August 2011, 09:42 AM

वह इंसान महान है , जो अपने नियम और मर्यादा में हमेशा खरा उतरता है ! जिसके सोने का अपना नियम ,

जागनेका अपना नियम ,भोजन का अपना नियम ,काम करने का नियम हो ,वह जीवन में अवश्य सफल होता है !

वह दूसरों के लिए प्रेरणा है.





I
LOVE MY INDIA



   
Reply With Quote
Old
  (#85)
Ayan_khan
tanha musafir
Ayan_khan is a glorious beacon of lightAyan_khan is a glorious beacon of lightAyan_khan is a glorious beacon of lightAyan_khan is a glorious beacon of lightAyan_khan is a glorious beacon of light
 
Ayan_khan's Avatar
 
Offline
Posts: 214
Join Date: Oct 2010
Location: yours heart
Rep Power: 13
3rd August 2011, 09:45 AM

कामनायें जगानी बुरी बात नहीं , आशायें और आकाक्षायें पालना बुरी बात नहीं,क्योंकि व्यक्ति इसी आधार पर उन्नति करता है ! दूसरों को देख कर अन्दर से प्रेरणा आती हे तो ईंसान आगे बढ्ता है ,पुरुशार्थ करता है! आशायें आकाक्षायें हमारे मन में आगे बढने की इच्छा पैदा करती हैं ! आवश्यकता अविष्कार को जन्म देती है ! आविष्कार के माध्यम से मनुष्य तरह -तरह की चीजें प्राप्त करते हैं ! लकिन आप जानते हैं कि कोई भी चीज नियंत्रण में है तो अच्छी है ,नियंत्रण से बाहर गयी तो वही चीज खतरनाक हो जाती है ! अग्नि जब तक आपके नियंत्रण में है , तो उसके द्वारा आप भोजन पकाइये , तरह - तरह के उपक्रम चलाइये ! गाडी के अन्दर भी अग्नि का माध्यम लेकर मनुष्य उसे संचालित करता है ! अग्नि के सहारे ही मनुष्य पेट भर रहा है ! सब कुछ ठीक है , लेकिन ऐक छोटी सी चिनगारी थोड़ी सी अनियत्रित होकर विशाल रूप धारण कर ले तो फिर उस अग्नि को हितकारीमत मानना ! वह विनाशकारी हो जायेगी ! घी का उपयोग करते हुए लोग अपनी सेहत बनाते हैं , लेकिन नियंत्रणा न कर अधिक मात्रा में इसका सेवन करें तो घी भी विष हो जायेगा ! अगर मर्यादा से हटकर बिना माप-तोल के आप अमृत लेंगे तो अमृत भी विष का काम करेगा ! आशा,आकांक्षा मन में पालना अच्छी बात है , लेकिन उन पर बुधि का नियंत्रण होना बहुत जरूरी है !


-सुधांशु जी महाराज





I
LOVE MY INDIA



   
Reply With Quote
Reply

Thread Tools
Display Modes Rate This Thread
Rate This Thread:

Posting Rules
You may not post new threads
You may not post replies
You may not post attachments
You may not edit your posts

BB code is On
Smilies are On
[IMG] code is Off
HTML code is Off

Forum Jump



Powered by vBulletin® Version 3.8.5
Copyright ©2000 - 2018, Jelsoft Enterprises Ltd.
vBulletin Skin developed by: vBStyles.com