View Single Post
यार बचपन का फिर कोई पुराना मिले
Old
  (#1)
MANOJTANHA
Registered User
MANOJTANHA is on a distinguished road
 
Offline
Posts: 42
Join Date: Jan 2018
Location: Delhi
Rep Power: 0
यार बचपन का फिर कोई पुराना मिले - 6th June 2021, 04:45 PM

यार बचपन का फिर कोई पुराना मिले
काश गुजरा हुआ फिर वो जमाना मिले

बिसरी हुई यादों को हवा देने का हमें
कोई तो साजो-समाँ औ ठिकाना मिले

कौन कमबख्त चाहता है होश में आना
नशा-ए-यारी में डूबने का कोई तो बहाना मिले

छिड़ गया है जो ये दोस्ती का फसाना
अब कोई तो तन्हा हिसाब पुराना मिले
   
Reply With Quote